Wuhan में कोरोनावायरस पर रिपोर्टिंग करने वाली चीनी महिला पत्रकार को जेल में डाला

पूरी दुनिया में कोरोना वायरस के फैलने के बाद चीन को संदिग्ध नजरों से देखा जाता है। अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने कोरोना वायरस के पीछे चीन को जिम्मेदार ठहराया था, जबकि कई अन्य देश भी ड्रैगन पर वायरस को लेकर हमला बोल चुके हैं। कोरोना वायरस का सबसे पहला मामला चीन के वुहान शहर से ही सामने आया। इसके बाद, चीन हर उस व्यक्ति या फिर देश को निशाने पर लेने लगा था, जो उसपर सवाल खड़े कर रहे थे। ताजा रिपोर्ट के अनुसार, वुहान में कोरोना वायरस की स्थिति पर लाइव स्ट्रीम करने वाली सिटीजन जर्नलिस्ट झांग झान को चीन ने चार साल की जेल की सजा सुनाई है। झांग ने वुहान में फैले कोरोना वायरस के बारे में पूरी दुनिया को जानकारी दी थी। जर्नलिस्ट पर की गई कार्रवाई के बाद चीन की असलियत सामने आ गई है और लोग सवाल करने लगे हैं कि जरूर 'दाल में कुछ काला' है।