10 लाख नौकरियों पर बोले तेजस्‍वी-जरूरत पड़ी तो सीएम और विधायकों का वेतन रोककर देंगे सैलरी

बिहार में कल दूसरे चरण के लिए मतदान होना है। इस बीच सोमवार की शाम महागठबंधन की ओेर से सीएम कैंडिडेट तेजस्‍वी यादव ने एक बार फिर सोशल मीडिया पर युवा नौकरी संवाद किया। संवाद में 10 लाख नौकरियों के वादे को दोहराते हुए तेजस्‍वी ने कहा कि नीति आयोग की रैंकिंग में बिहार सबसे फिसड्डी है। बिहार को सुधारने के लिए सभी पदों को भरना होगा। उन्‍होंने कहा वे (सीएम नीतीश कुमार) पूछते हैं कि पैसा कहां से आएगा। अभी बिहार सरकार अपने बजट का 40 फीसदी हिस्‍सा खर्च नहीं कर पाती। उस राशि का इस्तेमाल किया जाएगा। यदि इस पर भी शक है तो हमारी सरकार बनेगी तो सीएम और विधायकों की सैलरी रोककर नौजवानों को सैलरी देगी।