इन्द्रदेव को खुश करने के लिए ग्रामीणों ने निकाली पुतले की शवयात्रा

बारिश न होने पर लोग कई तरह के टोटके अपनाते हैं। लेकिन ऐसा टोटका आपने नहीं देखा होगा। अंधविश्वास के चलते ग्रामीणों ने इंद्रदेव को खुश करने के लिए पुतले की शव यात्रा निकाली। एक ग्रामीण अखिलेश यादव ने बताया कि पिछले एक महीने बारिश नहीं हो रही है। गांव के बुजुर्गों का कहना है कि मुर्दा देखकर भगवान इंद्रदेव खुश होते हैं। ग्रामीणों ने पुतले के लिए अर्थी तैयार की। गाजे-बाजे के साथ पुतले की शवयात्रा निकाली। यह मामला है कि खरगोन जिले के सेगांव विकासखंड के एक गांव की। जहां पिछले एक महीने से ग्रामीण बारिश न होने की वजह से परेशान हैं। रसगांव के ग्रामीणों ने पुतला और अर्थी तैयार कर गांव में पुतले की शवयात्रा निकाली। गांव में बैंडबाजे के साथ पुतले की शवयात्रा निकाली। एक स्थान पर शव रख विलाप किया। बाद में शव को पेड़ से बांधकर दाह संस्कार किया।

Our goal is to create a safe and engaging place for users to connect over interests and passions. In order to improve our community experience, we are temporarily suspending article commenting.